लोकसभा के पूर्व अध्यक्ष सोमनाथ चटर्जी का सोमवार को निधन हो गया.  उनको दिल का दौरा पड़ने के बाद वेंटिलेटर पर रखा गया था।  अधिकारी ने रात में बताया, “उनकी डायलिसिस की जा रही थी। ऐसे मामलों में कई बार हृदय काम करना बंद कर देता है। चटर्जी को आज सुबह दिल का हल्का दौरा पड़ा था। 

89 वर्षीय चटर्जी गुर्दे संबंधी समस्या से पीड़ित थे और उन्हें गत मंगलवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पिछले महीने पूर्व लोकसभा अध्यक्ष को मस्तिष्काघात हुआ था। अधिकारी ने कहा, “पिछले 40 दिनों से चटर्जी का उपचार चल रहा था। स्वास्थ्य में सुधार के संकेत मिलने के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिली थी लेकिन केवल तीन दिन बाद मंगलवार को हालत बिगड़ने के बाद उन्हें फिर से अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा था।”

दस बार लोकसभा सांसद रहे चटर्जी माकपा की केंद्रीय समिति के सदस्य थे। वह 2004 से 2009 के बीच लोकसभा के अध्यक्ष रहे थे। हालांकि उनकी पार्टी के संप्रग-1 सरकार से समर्थन वापस लेने के बाद लोकसभा अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने से उनके इनकार के बाद 2008 में उन्हें माकपा से निष्कासित कर दिया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here